Comments Off on सीबीएसई 12वीं का रिजल्ट जारी, टॉप टेन में शामिल हुआ बिहार 0

सीबीएसई 12वीं का रिजल्ट जारी, टॉप टेन में शामिल हुआ बिहार

कैरियर, ताज़ा समाचार, प्रमुख ख़बरें, बिहार

सीबीएसई बोर्ड CBSE ने 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है. इस साल 12वीं की परीक्षा में कुल 92.71 फीसदी छात्र-छात्राएं पास हुए हैं. छात्र आधिकारिक वेबसाइट cbse.nic.in, cbse.gov.in, cbseacademic.nic.in पर जाकर अपने नतीजे देख सकते हैं. छात्र parikshasangam.cbse.gov.in पर भी अपना रिजल्ट चेक कर सकते हैं. सीबीएसइ 12वीं परीक्षा के रिजल्ट में संत माइकल हाइस्कूल के सार्थक शौर्य 98.6 प्रतिशत अंक प्राप्त कर पटना में साइंस संकाय में टॉपर बने हैं. वहीं आर्ट्स में नोट्रेडम एकेडमी की शुभसंस्थिता ने 98.8 प्रतिशत अंक हासिल कर टॉप रही हैं.
तेजल शर्मा को मिला 98.2 प्रतिशत अंक
कॉमर्स संकाय में बिशप स्कॉट गर्ल्स स्कूल की तेजल शर्मा ने 98.2 प्रतिशत अंक प्राप्त कर पटना में टॉप पर रही हैं. पटना जोन का रिजल्ट इस बार 91.20 प्रतिशत रहा है, जो पिछले साल से 7.7% कम है. हालांकि, इस बार पटना जोन के रैंक में सुधार हुआ है. इस बार पटना जोन यानी कि बिहार-झारखंड टॉप टेन में है. 91.20 प्रतिशत छात्र-छात्राएं सफल हुए हैं. जोन वाइज पटना नौवें पोजिशन पर है. 98.83 प्रतिशत के साथ नंबर वन पर त्रिवंद्रम जोन है. वहीं बेंगलुरु 98.16 के साथ दूसरा स्थान प्राप्त किया है. चेन्नई में 97.79 प्रतिशत के साथ चेन्नई तीसरे स्थान पर है.
पंद्रहवें स्थान पर प्रयागराज
दिल्ली इस्ट 96.29 के साथ चौथे और दिल्ली वेस्ट 96.29 के साथ ही चौथे स्थान पर है. अजमेर 96.01 प्रतिशत के साथ पांचवें स्थान पर है. चंडीगढ़ 95.98 प्रतिशत के साथ छठे, पंचकुला 94.08 के साथ सातवें व गुवाहाटी जोन 91.20 प्रतिशत के साथ आठवें स्थान पर रहे. भोपाल 90.74 प्रतिशत के साथ दसवें स्थान पर रहे. पुणे 90.48 प्रतिशत के साथ 11वें, भुवनेश्वर 90.37 प्रतिशत के साथ 12वें, नोएडा 90.27 प्रतिशत के साथ 13वें, देहरादुन 85.39 प्रतिशत के साथ चौदहवें तथा प्रयागराज 83.71 प्रतिशत के साथ पंद्रहवें स्थान पर है.
पिछले चार वर्ष से लगातार टॉप पर लड़कियां
सीबीएसई रिजल्ट में इस बार भी लड़कियों ने बाजी मारी है. 94.54 प्रतिशत लड़कियां इस वर्ष उत्तीर्ण हुई हैं, जबकि लड़के 91.25 प्रतिशत उत्तीर्ण हुए हैं. 2021 में 99.67 प्रतिशत लड़कियां उत्तीर्ण थी. उसके अनुसार देखा जाये तो लड़कियों के प्रतिशत में भी इस पर करीब 5 प्रतिशत की कमी आयी है. 2020 में 92.15 प्रतिशत तथा 2019 में 88.70 प्रतिशत लड़कियां उत्तीर्ण हुई थीं. छात्रों का रिजल्ट 2021 में 99.13, 2020 में 86.19, 2019 में 83.33 प्रतिशत रहा था, जो हर वर्ष लड़कियों से पीछे ही रहे हैं. ट्रांसजेंडर शत प्रतिशत उत्तीर्ण हुए हैं. पिछले दो वर्ष से लगातार ये टॉप पर हैं. 2020 में 86.19 व 2019 में 83.33 प्रतिशत टांसजेंडर उत्तीर्ण हुए थे.

Back to Top

Search