Comments Off on यूपी सातवें और अंतिम चरण में 60 फीसदी मतदान सहित पांच राज्यों में मतदान समाप्त 0

यूपी सातवें और अंतिम चरण में 60 फीसदी मतदान सहित पांच राज्यों में मतदान समाप्त

उत्तर प्रदेश, चुनाव, ताज़ा ख़बर, ताज़ा समाचार, विधान सभा

देश के पांच राज्यों में आज मतदान समाप्त हो गया और अब सबकी नजर 11 मार्च को आने वाले परिणामों पर हैं जिसके साथ दो महीने से चल रही चुनाव प्रक्रिया समाप्त होगी. चुनाव परिणामों को नोटबंदी के फैसले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता पर जनमत-संग्रह के रुप में देखा जा रहा है.
सर्वाधिक उत्सुकता उत्तर प्रदेश के चुनाव परिणामों को लेकर है जहां मोदी और उनकी पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने सात चरणों में हुए मतदान से पहले प्रचार में कोई कसर नहीं छोड़ी. उत्तर प्रदेश में आज अंतिम चरण के मतदान में करीब 60 प्रतिशत मतदान हुआ और इस तरह 403 सदस्यीय विधानसभा के संपूर्ण चुनावों में मतदान प्रतिशत करीब 61 के स्तर पर पहुंच गया.
मणिपुर में आज दूसरे और आखिरी चरण के वोट पड़े जहां 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए कुल मिलाकर 85 प्रतिशत लोगों ने मतदान किया. इन दोनों के अलावा पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में भी चुनाव हुए हैं. एक्जिट पोल कल आएंगे.
इन चुनाव को मोदी के लिए शक्ति परीक्षण के तौर पर देखा जा रहा है. भाजपा ने सत्ता के लिए खासतौर पर उत्तर प्रदेश जैसे अहम राज्य में सरकार बनाने के लिए पूरी ताकत झोंक दी जहां वह 15 साल से सत्ता में नहीं है. पिछले साल आठ नवंबर को नोटबंदी के फैसले के बाद यह पहला बड़ा चुनाव है.
उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार के दौरान राजनीतिक दलों ने एक दूसरे पर जमकर प्रहार किये और नये नये जुमले पेश किये जिन पर विवाद भी उठे. मोदी ने अपनी रैलियों में सपा और कांग्रेस के विपक्षी गठबंधन को आड़े हाथ लेते हुए उन्हें ‘स्कैम’ (एससीएएम) की संज्ञा दी तो मायावती की बसपा को ‘बहनजी संपत्ति पार्टी’ कहा.
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ‘स्कैम’ की अपनी परिभाषा बनाई और इसे ‘सेव कंटरी फ्रॉम अमित शाह एंड मोदी’ का संक्षिप्त रुप बताया. उन्होंने प्रसिद्ध अभिनेता अमिताभ बच्चन से गुजरात के गधों के विज्ञापन में नहीं आने की सलाह दी तो भाजपा खेमे में जबरदस्त नाराजगी देखी गयी. मोदी पर ‘कब्रिस्तान और श्मशान’ जैसी बातें करके मतदाताओं के ध्रुवीकरण के प्रयास करने के आरोप भी लगे.उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के सातवें और अंतिम चरण के लिए आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी समेत सात जिलों की 40 सीटों पर 60.03 प्रतिशत मतदान हुआ.
निर्वाचन आयोग के अनुसार वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर, चंदौली, मिर्जापुर, भदोही और सोनभद्र की 40 सीटों पर शांतिपूर्ण ढंग से 60.03 प्रतिशत मतदान हुआ. इसके साथ ही कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश सिंह, पारसनाथ यादव, अजय राय, पूर्व सांसद धनंजय सिंह, बाहुबली मुख्तार अंसारी के भाई सिबगतउल्लाह अंसारी और जेल में बंद माफिया मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह समेत कुल 535 उम्मीदवारों का चुनावी भाग्य इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों में बंद हो गया.
इस बार हुए विधानसभा चुनाव के सातों चरणों में 60. 76 प्रतिशत मतदान हुआ. वर्ष 2012 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में यह 59.48 प्रतिशत वोट पड़े थे. इस बार पहले चरण में 64. 22 प्रतिशत, दूसरे दौर में 65. 16 फीसद, तीसरे चरण में 61.16 प्रतिशत, चौथे चरण में 60.37 फीसद, पांचवें दौर में 57.37 प्रतिशत तथा छठे चरण में 57.03 फीसद मतदान हुआ था.
जौनपुर से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार मतदाताओं को वाहनों से मतदान बूथ तक ले जाने के आरोप में जफराबाद सीट से भाजपा प्रत्याशी हरेन्द्र प्रताप सिंह तथा चार अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया. हालांकि सिंह ने इस आरोप को गलत बताया है.
नक्सल प्रभावित दुद्धी, राबर्टसगंज और चकिया सीटों पर क्रमश: 62, 58 और 59 प्रतिशत मतदान हुआ. इन सीटों पर मतदान सुबह सात बजे से शाम चार बजे तक था, जबकि अन्य सभी मतदान केंद्रों पर सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक हुआ. वर्ष 2012 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में इन 40 सीटों में से 23 पर सपा ने जीत दर्ज की थी, जबकि बसपा को पांच, भाजपा को चार, कांग्रेस को तीन और अन्य को पांच सीटें मिली थीं.
सातवें चरण के चुनाव में 64.76 लाख महिलाओं समेत लगभग 1.41 करोड़ मतदाताओं के वोट डालने के लिये कुल 14,458 मतदान बूथ बनाये गये थे. इस चरण में भाजपा 32 सीटों पर चुनाव लड़ रही थी जबकि चार चार सीटें इसने अपने सहयोगी अपना दल और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को दी थीं.
बसपा ने सभी सीटों पर प्रत्याशी उतारे हैं. सपा 31 सीटों पर है तो उसकी गठबंधन सहयोगी कांग्रेस शेष नौ सीटों पर चुनाव लड़ रही है. इसके साथ ही प्रदेश विधानसभा चुनाव के सात चरणों में मतदान की प्रक्रिया समाप्त हो गयी. वोटों की गिनती आगामी 11 मार्च को होगी.

Back to Top

Search