Comments Off on महागठबंधन ने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा 2

महागठबंधन ने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा

चुनाव, ताज़ा ख़बर, ताज़ा समाचार, प्रमुख ख़बरें, बिहार, विधान सभा

नीतीश कुमार के नेतृत्व में बने महागठबंधन ने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर दी है। नीतीश ने कहा कि समाज के हर तपके और हर समुदाय के लोगों को इसमें शामिल किया गया है। आज 242 सीटों का ऐलान कर कर दिया गया है। एक सीट की घोषणा बाद में की जाएगी। सूची में 16 फीसदी उम्मीदवार सामान्य से, 55 फीसदी ओबीसी के और 14 फीसदी प्रत्याशी मुस्लिम हैं। चुनावी मैदान में लालू प्रसाद यादव के दोनों बेटों तेज प्रताप और तेजस्वी को उतारा गया है। लालू का बड़ा बेटा तेज प्रताप महुआ से और छोटे बेटा तेजस्वी राघोपुर सीट से दम दिखाएंगे।
मखदूमपुर से जीतन राम मांझी के खिलाफ लालू ने सुबेदार दास को उतारा है। लालू ने सबसे ज्यादा 48 यादव उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा है। कांग्रेस ने 14 उम्मीदवारों की घोषणा अभी की है। मखदूमपुर जहां से मांझी चुनाव लड़ रहे हैं वहां लालू ने सूबेदार दास को चुनाव मैदान में उतारा है। मुस्लिम उम्मीदवारों की बात करें तो राजद से 16 सीटों पर और जदयू ने सात सीटों पर मुस्लिम उम्मीदवार को उतारा है।
बाहुबली मुन्ना शुक्ला को लालगंज से जदयू ने प्रत्याशी बनाया है। अभी मुन्ना शुक्ला की पत्नी लालगंज से विधायक हैं। नीतीश कुमार ने सबसे ज्यादा कोईरी उम्मीदवार उतारे हैं। मंत्री वैद्यनाथ साहनी का मोरवा से टिकट कटा। रामधनी सिंह का भी टिकट कटने की खबर है। ये दोनों नीतीश सरकार में मंत्री थे। जमुई सीट से सांसद जय प्रकाश यादव के भाई विजय प्रकाश को टिकट मिला है। बिहार में पहले चरण के चुनाव के लिए नामांकन भरने का आज आखिरी दिन है। 12 अक्टूबर को 49 सीटों पर वोटिंग होनी है।
लालू प्रसाद ने पटना में भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि इस बार चुनाव में एक तरफ देव सेना (हमारी) है और दूसरी तरफ आसुरी सेना (नरेंद्र मोदी की) है। महागठबंधन को बहुमत मिलने के बाद रिमोट क्या लालू के हाथ में रहेगा, इस सवाल पर उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा का चुनाव लालू-नीतीश का चुनाव नहीं है, बल्कि देश का चुनाव है। इसमें कोई रिमोट की बात नहीं है। महागठबंधन की ओर से नीतीश कुमार को नेतृत्व का जिम्मा सौंपा गया है और चुनाव के बाद नीतीश ही मुख्यमंत्री बनेंगे।

Back to Top

Search