Comments Off on खुलासा; 17 रु./किलो प्याज खरीद कर 30 में बेच रही है आप सरकार 3

खुलासा; 17 रु./किलो प्याज खरीद कर 30 में बेच रही है आप सरकार

अपराध, ताज़ा ख़बर, ताज़ा समाचार, दिल्ली

दिल्ली की आम आदमी पार्टी (आप) सरकार पर प्याज घोटाले का आरोप लगा है। आरटीआई के जरिए हुए खुलासे में दावा किया गया है कि दिल्ली सरकार ने 2500 टन प्याज 14 से 20 रुपए प्रति किलो के हिसाब से खरीदा था। इसकी औसत कीमत 17 रुपए/किलो बैठती है। जबकि सस्ता प्याज बेचने का दावा करते हुए सरकार ने इसे 30 रुपए/किलो बेच रही है।
RTI एक्टिविस्ट विवेक गर्ग के मुताबिक, दिल्ली सरकार ने 2500 टन प्याज 14 से 20 रुपए प्रति किलो के हिसाब से खरीदा। जबकि सरकार दावा कर रही है कि एक किलो प्याज की कीमत 40 रुपए है। गर्ग ने यह भी दावा किया कि दिल्ली सरकार ने 2500 मैट्रिक टन प्याज में से सिर्फ 600 मैट्रिक टन ही बाज़ार में उतारा, बाकी का प्याज अभी तक बाजार में नहीं उतारा गया है। गर्ग का यह भी दावा है कि सिर्फ हाल ही में जो प्याज खरीदा गया है उसकी कीमत करीब 24 रुपए प्रति किलो है। बाकी 16 रुपए/किलो के हिसाब से खरीदा गया था।
इस मामले में दिल्ली सरकार ने सफाई देते हुए कहा है कि प्याज खरीद और बिक्री में उसने मुनाफा लेना तो दूर, सब्सिडी पर प्याज बेचा है। इसमें कोई घोटाला नहीं हुआ है। दिल्ली सरकार का कहना है कि उसने एसएफएसी से प्याज की खरीददारी की। एसएफएसी अपने प्याज की कीमत बाजार के रेट, भाड़ा, स्टोरेज और 25 प्रतिशत नुकसान जोड़कर सरकार को बेचती है। इस बार जो प्याज की खरीददारी हुई, वो एसएफएसी के इस हिसाब के बाद 32.86 रुपए प्रति किलो की दर से की गई है।
दिल्ली सरकार ने कोल्ड स्टोरेज से मुहल्लों में प्याज भिजवाने के लिए टेम्पो लिए, टेम्पो ड्राइवर और एक अटेंडेंट का खर्च प्रति किलो 4 रुपए आया। इसके बाद स्थानीय स्तर पर भी प्याज टेम्पो में रखकर बेचा गया। इसका खर्च 3 रुपए प्रति किलो आया। इस तरह 32.86 + 4 +3 मिलाकर प्रति किलो प्याज की कीमत 39.86 रुपये/किलो हो जाती है। जिसे दिल्ली सरकार ने 9.86 पैसे की सब्सिडी के साथ 30 रुपए प्रति किलो की दर से बाज़ार में बेचा।
दिल्ली बीजेपी प्रेसिडेंट सतीश उपाध्याय ने अरविंद केजरीवाल की सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने सस्ता प्याज खरीदकर महंगे दाम पर बेचे जाने घोटाले की जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि यह बात भी सामने आना चाहिए कि करोड़ों रुपए की कमाई में कौन लोग शामिल हैं। नेफेड ने भी कुछ दिन पहले दिल्ली सरकार पर सस्ता प्याज खरीदकर महंगे दाम पर बेचने की बात कही थी।
इस मामले में आम आदमी पार्टी के विधायक की एक चिट्ठी भी सामने आई है जिसमे विधायक ने साफ तौर पर लिखा है कि उन्होंने 24 रुपए प्रति किलो की दर से प्याज खरीदा और अपने दफ्तर से इस प्याज़ की बिक्री 30 रुपए प्रति किलो की दर से की है।

Back to Top

Search