Comments Off on आरके सिंह को मिला शत्रुघ्न का साथ 1

आरके सिंह को मिला शत्रुघ्न का साथ

आमने सामने, ताज़ा ख़बर, ताज़ा समाचार, बिहार, विधान सभा

भाजपा में टिकट बंटवारे को लेकर घमासान थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। शनिवार को भाजपा को बड़ा झटका तब लगा, जब सांसद आरके सिंह ने टिकट बंटवारे पर ताबड़तोड़ सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने पैसे लेकर टिकट बांटने का गंभीर आरोप लगाया।साथ ही इसे बगावत नहीं सुधार की आवाज कहा। सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने आर के सिंह के बयानों का समर्थन करते हुए कहा कि अगर उन्होंने ऐसा आरोप लगाया है तो इसमें कुछ न कुछ सच्चाई जरूर होगी।भाजपा सांसद के इस रुख के बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने उनसे बातचीत की। गौरतलब है कि आरके सिंह की छवि साफ-सुथरी है और वे देश के गृहसचिव रह चुके हैं। वे बिना लागलपेट बातों को रखने वाले शख्स के रूप में जाने जाते हैं। पूर्व मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता चन्द्रमोहन राय ने श्री सिंह के बयान का समर्थन किया है।
उधर, आरके सिंह के बयान से भाजपा नेतृत्व सकते में है। केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बाद नितिन गडकरी ने भी तुरंत फोन कर श्री सिंह से बात की। हालांकि, केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद और पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सिंह के आरोपों को निराधार करार दिया है।श्री मोदी ने कहा कि हर चुनाव में टिकट बंटने के बाद ऐसे आरोप लगाए जाते हैं। जो भी ऐसे आरोप लगाते हैं उन्हें पूरे तथ्यों के साथ बात रखनी चाहिए।निराधार आरोप लगाने का कोई मतलब नहीं है। उन्होंने श्री सिंह के आरोपों को बेबुनियाद करार दिया। श्री मोदी ने फोन नहीं उठाने के आरोप पर कहा कि चुनाव को लेकर हजारों फोन आते हैं मेरे पास। व्यस्तता के कारण आरके सिंह का कॉल रिसीव नहीं कर पाया।
गौरतलब है कि शनिवार को मीडिया से बातचीत में आरके सिंह ने कहा कि पैसे लेकर टिकट बांटे जा रहे हैं। अपराधी छवि के लोगों को टिकट दिए गए हैं। कार्यकर्ताओं की उपेक्षा हुई है। जीतने वालों का अकारण टिकट काटा गया। बिक्रम कुंवर, दिलमणि देवी जैसों का टिकट क्यों काटा? सीपी ठाकुर के बेटे को कहीं और से लड़ा सकते थे।
उन्होंने आरोप लगाया कि पूरी तरह संवादहीनता है। जिनका टिकट कटा है, उन्हें कोई इसका कारण तक बताने वाला नहीं है। श्री सिंह से जब पूछा गया कि आपको नहीं लगता आपके इस रुख से भाजपा को नुकसान होगा, उनका कहना था कि भाजपा को नुकसान तो कार्यकर्ताओं के रुख से होगा। वे तो सिर्फ उनकी आवाज उठा रहे हैं।आरके सिंह ने कहा कि भाजपा में अपराधियों को टिकट दिया गया है। उन्होंने तरारी, बख्तियारपुर और अरवल सीटों को बतौर उदाहरण गिनाया। कहा कि अगर हम अपराधियों को टिकट दे रहे हैं तो भाजपा और लालू यादव में क्या अंतर रह जाता है।
उन्होंने कहा कि बिहार के लिए हमारे दिल में एक दर्द है। लोग स्वच्छ प्रशासन और ऐसी सरकार चाहते हैं, जिसमें बिना लूट और घूसखोरी के विकास हो। लेकिन भाजपा ऐसे लोगों को टिकट देकर कैसे देगी स्वच्छ प्रशासन?श्री सिंह ने टिकट में पैसे के लेन-देन के सवाल पर कहा कि सुना है मेरी पार्टी भाजपा में पैसे लेकर टिकट दिए गए हैं। पैसे किसने लिए, तो कहा कि जिनकी भी चली है और सुना है टिकट वितरण में सुशील मोदी का चला है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वे किसी क्रिमिनल के प्रचार में नहीं जाएंगे। किसी की हिम्मत भी नहीं है कि मुझसे जाने को कहे

Back to Top

Search