Comments Off on अमृतसर हादसे में 200 मौतों की आशंका, ज्यादातर यूपी-बिहार के हो सकते हैं 2

अमृतसर हादसे में 200 मौतों की आशंका, ज्यादातर यूपी-बिहार के हो सकते हैं

अपराध, ताज़ा समाचार, पंजाब, प्रमुख ख़बरें, बड़ी ख़बरें

अमृतसर के जौड़ा फाटक में रावण दहन के दौरान हुए रेल हादसे में मृतकों की संख्या 200 तक भी जा सकती है. ऐसा घटनास्थल पर मौजूद चश्मदीदों ने मीडिया को जानकारी दी है. हालांकि इस संख्या की आधिकारिक तौर पर पुष्टि नहीं हुई है. स्थानीय प्रशासन अभी भी मृतकों की संख्या 50 के आसपास ही बता रहा है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने भी घटना पर बहुत दुख जताया है. वे शनिवार को घटनास्थल पर जायेंगे. स्थानीय मीडिया के अनुसार घटना में मरने वालों में बड़ी संख्या बिहार-यूपी के लोगों की बताई जा रही है.
मालूम हो कि यह रेल हादसा ट्रैक दिल्ली-अमृतसर रेल ट्रैक पर हुआ है. यहां खड़े होकर बहुत सारे लोग रावण दहन कार्यक्रम देख रहे है. अमृतसर के इस रिहायशी इलाके में रेलवे ट्रैक के पास ही रावण दहन का कार्यक्रम आयोजित किया गया था. इस दौरान बड़ी संख्या में लोग मौके पर जमा थे. इसी बीच अमृतसर से हावड़ा एक्सप्रेस और जालंधर की ओर से अमृतसर जा रही DMU ट्रेन आ गई. इसने कई लोगों को अपनी चपेट में ले लिया.
वहीं इस घटना के बाद प्रतिक्रियाओं को सिलसिला जारी है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई नेताओं ने घटना पर दुख जताया है. रेलवे बोर्ड के अधिकारी भी देर रात तक घटनास्थल पहुंचेंगे. फिलहाल घटनास्थल से शवों को हटा लिया गया है. उन्हें पोस्टमार्टम के लिए ले जाया गया है. पोस्टमार्टम शनिवार को होने की उम्मीद है. घायलों को स्थानीय अस्पतालों में भर्ती कराकर इलाज कराया जा रहा है. मौके पर काफी देर तक आक्रोशित लोगों ने सरकार और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी भी की है.
मिली जानकारी के अनुसार इस ट्रैक के एक ओर काफी सघन आबादी है. दूसरी ओर खुला मैदान है. इसी मैदान में रावण दहन कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. इसी कार्यक्रम को देखने बड़ी संख्या में लोग रेलवे ट्रैक पर भी खड़े थे. यह इलाका कांग्रेस सांसद नवजोत सिंह सिद्धू का है. बताया गया है कि कार्यक्रम के दौरान उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू मुख्य अतिथि के तौर पर मौजूद थीं. स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया है कि वे घटना के बाद वहां से रवाना हुई हैं.
अमृतसर से आ रही ख़बरों के अनुसार हादसा ज्यादा भयानक इसलिए भी हुआ क्योंकि दोनों ट्रेन एक ही साथ क्रॉस करने लगी. इस दौरान एक ट्रेन के क्रॉस करने से जो लोग बचने को भागे वे दूसरी ओर से आ रही ट्रेन की चपेट में आ गए.

Back to Top

Search